लाइफस्टाइल

क्या आपको पता है ज्यादा चाय पीने से कितने नुकशान हो सकते है?

अगर आप ज्यादा चाय पीने के शौकीन हैं और वो भी दूध वाली चाय, तो सावधान हो जाइए। क्योकि चाय में दूध मिलाकर पीने से जितने लाभ होते है उससे ज्यादा नुकशान भी है। अगर आपको चाय पीने की आदत है, तो आप बिना दूध की ब्लैक टी पी सकते हैं। बिना दूध की चाय आपके दिल की सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होती है।

चाय में ज्यादा चीनी मिलाने से भी शरीर को कोई फायदा नहीं होता है। चाय में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। जो आपको कैंसर जैसी खतरनाक बीमारियों से बचा सकता है, लेकिन दूध वाली चाय आपके लिए हानिकारक हो सकती है। यह बात काफी रिसर्च में पायी गई है।

शोधकर्ताओं का कहना है कि चाय में दूध मिलाने से चाय में मौजूद तत्वों की जैविक गतिविधि बदल जाती है और इसके सकारात्मक प्रभाव नष्ट हो जाते हैं। तो आइए जानते है ज्यादा चाय पीने से कितने नुकशान हो सकते है….

tea side effects

– चाय में कैफीन होता है। दिन में दो कप से अधिक चाय पीने से अनिद्रा हो सकती है। इस बीमारी को दूध और चीनी की चाय के सबसे आम दुष्प्रभावों में से एक माना जाता है। दूध वाली चाय आपके मानसिक स्वास्थ्य को भी बाधित करती है।

– चाय में कैफीन की मौजूदगी पेट में एसिड के गठन को बढ़ाती है जिससे ईर्ष्या, सूजन और बेचैनी होती है। इसीलिए ज्यादा चाय का सेवन आपकी चिंता, तनाव, बेचैनी को बढ़ाने का काम करता है।

– बहुत अधिक चाय पीने से कब्ज हो सकता है। चाय में थियोफिलाइन नामक एक रसायन आपके शरीर को डिटॉक्सीफाई करने में मदद करता है। हालांकि, बहुत अधिक थियोफिलाइन आपको डी-हाइड्रेशन से पीड़ित भी कर सकता है, इसीलिए ज्यादा चाय पीने से कब्ज हो सकता है।

पढ़े: जानिए हल्दी के चमत्कारी लाभ

– बहुत अधिक चाय पीने से त्वचा की समस्याएं हो सकती हैं। दूध की चाय पीने का एक और प्रमुख दुष्प्रभाव पिंपल्स हैं। जब चाय का सेवन कम मात्रा में किया जाता है, तो यह आपके शरीर को डिटॉक्सीफाई करने में मदद कर सकता है। चाय का अत्यधिक सेवन अत्यधिक गर्मी पैदा करता है और शरीर के रसायनों में असंतुलन पैदा करता है। इससे चेहरे पर मुंहासे हो जाते हैं।

Leave a Comment