महाभारत

महाभारत के इन रहस्यों को जानते हैं आप?

विमान और परमाणु शस्त्र मोहन जोदड़ो की खुदाई में मिले कंकाल में रेडिएशन का असर मिला था। लोग इसे महाभारत के साथ जोड़ कर देखते हैं। कहा जाता है कि उस समय में भी परमाणु बम हुआ करते थे। उस काल के ब्रह्मास्त्र ही परमाणु बम थे। महाभारत में सौप्तिक पर्व के अध्याय 13 से 15 तक ब्रह्मास्त्र के परिणाम बताए गए हैं।

हिंदू इतिहास के अनुसार 3 नवंबर 5561 ईसा-पूर्व को अश्वत्थामा ने ब्रह्मास्त्र का प्रयोग किया। कौरवों का जन्म एक रहस्य धृतराष्ट्र और गांधारी को 100 पुत्रों के पिता और माता के रूप में जाना जाता है। लेकिन दोनो के शत् पुत्र नहीं, बल्कि 99 पुत्र और 1 पुत्री थी। इन्हें कौरव कहा जाता था। कुरू वंश के होने के कारण ही ये कौरव कहलाए।

गांधारी के गर्भ धारण करने के दौरान धृतराष्ट्र ने एक दासी के साथ संबंध बनाए, जिसके चलते धृतराष्ट्र के 100 पुत्र हुए। वेदव्यास से गांधारी को पुत्री प्राप्ती के लिए वरदान मिला। हालांकि गांधारी को कोई भी संतान नहीं हुई। क्रोध में गाधांरी ने अपने पेट पर जोर से मुक्का मार लिया, जिससे उसका गर्भ गिर गया। इस बात का मालूम चलने पर वेदव्यास ने गांधारी को फौरन 100 कुएं खुदवाने को कहा। साथ ही उन्होंने घी भरवा कर मरे हुए बच्चे का अवशेष उसमें डाल दिया। यहीं से कौरवों का जन्म हुआ।

महाभारत के महायुद्ध में विदेशों से भी लड़ाके हुए थे शामिल महाभारत के युद्ध में सिर्फ भारत के ही योद्धा नहीं, बल्कि विदेशो से भी योद्धा शामिल हुए थे। यवन देश से सेना ने युद्ध में भाग लिया था। साथ ही ग्रीक, रोमन, अमेरिका जैसे देशों से भी योद्धाओं के इस संग्राम में शामिल होने के प्रसंग सामने आते हैं। इसी आधार पर यह माना जाता है कि महाभारत विश्व प्रथम विश्व युद्ध था।

इनके अलावा भी बहोत सारे रहस्य हैं जिनसे कइं लोग अंजान हैं। आप अगर कोइ भी रहस्य जानते हैं तो कोमेन्ट करें। आओ देखते हैं की कौन कौन रहस्यों के अज्ञात नहीं है।

Leave a Comment