लाइफस्टाइल

क्या आप सुबह का नाश्ता नहीं करते हैं, अगर नहीं तो हो जाइए सावधान

आज के आधुनिक युग में लोगो की जीवनशैली ख़राब हो चुकी है| आज की फ़ास्ट लाइफ में लोग अपनी हेल्थ पर ज्यादा ध्यान नहीं देते है | जैसे की सुबह का नास्ता नहीं करना, पूरी नींद न लेना, शारीरिक रूप से निष्क्रिय रहना | जिसके कारण डायबिटीज की समस्या आजकल एक आम बात हो गई है। खराब जीवनशैली के कारण ज्यादातर लोग इस बीमारी से पीड़ित हैं। जब शरीर में ब्लड शुगर की मात्रा अनियंत्रित होती है, तो डायबिटीज का खतरा बढ़ जाता है। इस बीमारी से पीड़ित लोगों में प्रतिरक्षा भी कमजोर होती है। डायबिटीज शरीर के कई हिस्सों को प्रभावित करता है। आज कल तरह तरह की बीमारिया और वाइरस फेल रहे है, ऐसी स्थिती में खुद की हेल्थ का ध्यान रखना बहुत जरुरी है | इसीलिए ऐसे समय में डायबिटीज जैसी खतरनाक बीमारी से बचने के लिए अपनी जीवन शैली को बदलना जरुरी है।

सुबह का नास्ता न करने से…

कई लोग सुबह का नास्ता नहीं करते है या तो फिर काम के चककर में नास्ता करना भूल जाते है| जिसके कारण उनका ब्लड शुगर अनियमित हो जाता है। जिसके कारण डायबिटीज जैसी गंभीर बीमारी होती है | और डायबिटीज के रोग से पीड़ित दर्दी को कुछ न कुछ कहते रहने की सलाह दी जाती है, जिसके कारण उनका ब्लड शुगर और कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। इसलिए डायबिटीज के रोग से पीड़ित दर्दी को समय-समय पर कुछ न कुछ खाते रहना चाहिए।

शारीरिक रूप से कम सक्रीय रहने से…

इस आधुनिक युग में तरह तरह के मशीन निकल चुके है की मनुष्य के आधे काम मशीन ही कर देता है | इसीलिए कई लोग शारीरिक रूप से कम सक्रिय हो गए है | जो लोग शारीरिक रूप से कम सक्रिय हैं। उन्हें डायबिटीज का खतरा बढ़ जाता है। और वो तनाव और मोटापे का शिकार होते है। ये दोनों स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं शरीर में ब्लड शुगर के स्तर को प्रभावित करती हैं। जिससे डायबिटीज जैसी खतरनाक बीमारी से पीड़ित होने का खतरा बढ़ जाता हैं। इसलिए हमें अपने स्वास्थ्य को तंदुरस्त रखना है तो शारीरिक रूप से हमेशा सक्रिय रहना चाहिए |

पढ़े : बस इतना करो, कभी भी कमजोरी नहीं आएगी

कम नींद लेंने से…

आज की फ़ास्ट लाइफ में लोग अपनी हेल्थ पर ज्यादा ध्यान नहीं देते है। न टाइम पर खाना न टाइम पर सोना, लोगो की जीवनशैली काफी ख़राब हो चुकी है। बहुत बार लोग अपने काम से इतने व्यस्त होते हैं कि वे रात को अच्छी नींद भी नहीं ले पाते हैं। और नींद की कमी से ब्लड शुगर बढ़ता है। कम नींद लेने के कारण मेटाबॉलिज्म अधिक प्रभावित होता है। जिसके कारण ब्लड शुगर का लेवल बढ़ जाता है। नींद की कमी से डायबिटीज का खतरा बढ़ जाता है।शांत सिंह राजपूत के मामले से संबंधित थी।

Leave a Comment