समाचार

अहमदाबाद में भयानक प्रदूषण, साँस लेना मुश्किल

गुजरात के शहरों में प्रदूषण बढ़ता ही जा रहा है। खासकर अहमदाबाद शहर में फरवरी से लेकर अब तक लगातार हवा में प्रदूषण देखा गया है। अहमदाबाद का एयर क्वालिटी इंडेक्स 135 तक पहुंच गया है। अहमदाबाद में प्रतिदिन फ़ैक्टरिया बढ़ने के कारण प्रदुषण में वृद्धि जारी है। हाल के दिनों में अहमदाबाद में उड़ने वाली धूल के कारण हवा गैर-सेहतमंद होती जा रही है और साँस लेना मुश्किल हो गया है।

हालांकि, राज्य भर के शहरों में प्रदूषण के बारे में बात करे तो, गांधीधाम में प्रदूषण का प्रमाण सबसे ज्यादा है। गांधीधाम में एर क़्वालिटी इंडेक्स 158 तक पहुंच गया है। गांधीधाम में बढ़ते प्रदूषण का कारण कारखानों और कंपनियां हैं। गांधीधाम में बड़ी संख्या में रसायन, कोयला और अन्य चीजों के कारखाने हैं, जिसके कारण प्रदूषण में वृद्धि हुई है। गांधीधाम के बाद, वलसाड में एर क़्वालिटी इंडेक्स 129 है। आनंद का आंकड़ा 106 और राज्य की राजधानी गांधीनगर में 121 है।

वायु गुणवत्ता सूचकांक वेबसाइट की वेबसाइट के अनुसार, अहमदाबाद शहर में वायु प्रदूषण बहुत बढ़ गया है। यदि संख्या 100 के आसपास है, तो हवा को अच्छा माना जाता है। जब यह 50 से नीचे होता है, तो इसे सबसे अच्छा माना जाता है। यदि यह आंकड़ा 150 से ऊपर चला जाता है, तो इसे अस्वस्थ माना जाता है। उल्लेखनीय है कि एर क़्वालिटी इंडेक्स (AQI) वायु की शुद्धता को मापने के लिए एक आंतराष्ट्रीय मापदंड है।

Leave a Comment